कोरोनाकाल के मसीहा SONU SOOD का जीवन परिचय

|

कौन है SONU SOOD

कोरोनाकाल के दौरान सबकी मदद करने के लिए एक इंसान मसीहा के रूप में सामने आया है जिसका नाम है “Sonu Sood” सोनू रील लाइफ में भले ही एक विलेन का किरदार निभाते हो लेकिन वे रियल लाइफ में एक HERO के रूप में सामने आये है। SONU BOLLYWOOD INDUSTRY की एक जानी मानी शख्सियत हैं। इन्होने BOLLYWOOD के अलावा TOLLYWOOD में भी काम किया है।

आज हम बात करेंगे SONU SOOD के करियर की, उनके निजी जीवन की और उनकी ख़ास बातों की। सोनू आज हर एक इंसान की जबान पर छाए हुए है। MEDIA से लेकर SOCIAL MEDIA तक हर जगह सोनू की तारीफे हो रही है। इस पोस्ट को पूरा पढ़े और जाने कैसे एक REEL LIFE का विलेन REAL LIFE में हीरो की तरह सामने आया है।

परिचय

SONU SOOD का जन्म 30 जुलाई 1973 को पंजाब के मोगा में हुआ था। उनके पिता का नाम सागर सूद था जो पेशे से एक एंटरप्रेन्योर थे और माता का नाम सरोज सूद जो की एक अध्यापिका थीं। आपको बता दें कि, सोनू की 2 बहनें भी हैं मालविका सूद और मोनिका सूद। सोनू ने अपनी स्कूली शिक्षा मोगा में ही सेक्रेड हार्ट स्कूल से की और अपनी कॉलेज की शिक्षा व्हाई.सी.सी नागपुर से की। सोनू सूद को इलेक्ट्रॉनिक में इंजिनीरिंग की डिग्री प्राप्त की है। जिसके बाद उन्होंने MODELING के लिए यशवंतराव चव्हाण कॉलेज में एडमिशन लिया। इंजिनीरिंग के दौरान सोनू की मुलाकात सोनाली से हुई जिसके बाद उन्होंने उन्ही से शादी की।

sonu family
sonu sood family

25 सितम्बर 1996 में उन्होंने SONALI से शादी कर ली और उनके इशांत व अयान नाम के दो बेटे भी हैं। सोनू बताते हैं कि उनकी वाइफ ने उनका हर समय पर साथ दिया है और आज उनकी वाइफ और बेटे सब उनपे बहुत गौरान्वित महसूस करते हैं।

करियर

सोनू बचपन से ही एक ACTOR बनना चाहते थे जिसके चलते SONU SOOD ने अपने करियर की शुरुआत मॉडल के रूप में की। जिसके बाद 1999 में उन्होंने एक्टिंग की दुनिया में कदम रखा। उन्होंने तमिल फिल्म “कलाजघर” से DEBUT किया था। कलाजघर के बाद वे तेलगु फिल्म “हैंड्स-अप” में नजर आए। इन MOVIES के बाद सोनू के लिए धीरे-धीरे सभी दरवाजे खुलते गए और वे अगर बढ़ते गए। जिसके चलते उन्होंने फिर BOLLYWOOD में कदम रखा।

उन्होंने 2002 में सोनू ने “शहीद – ए – आजम” फिल्म में भगत सिंह के किरदार से BOLLYWOOD INDUSTRY में अपने करियर की शुरुआत की। बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन के बेटे अभिषेक बच्चन के साथ उन्होंने फिल्म “युवा” में अपने अभिनय का जलवा दिखाया। जिसके बाद 2005 में आई फिल्म “आशिक बनाया” में भी सोनू सूद नजर आए। SONU ने BOLLYWOOD और TOLLYWOOD के कई बड़े अभिनेताओं के साथ काम किया और अपनी अलग पहचान बनाई।

शादी

जैसा की हमने पहले आपको बताया कि, सोनू जब ENGINEERING की पढ़ाई कर रहे थे तब उन्हें प्यार हुआ था। उन्हें MBA कर रहीं सोनाली से प्यार हो गया था। उनकी पहले मुलाकात हुई, फिर दोस्ती और फिर यह दोस्ती प्यार में तब्दील हो गई और इस रिश्ते को सोनू ने शादी के मुकाम तक पहुंचाया। वहीं जब SONU ने अपना करियर ACTING में शुरू करने का फैसला किया तब सोनाली इसके पक्ष में नहीं थीं।

sonu wife
sonu sood with sonali

इस मुकाम तक पहुंचने के लिए उन्होंने काफी मेहनत की। आपको बता दें कि, SONU सपनो के शहर MUMBAI में एक छोटे से वन बीएचके फ्लैट में किराए से रहते थे। इस दौरान उनकी जिंदगी काफी CHALANGING भी रही लेकिन सोनाली ने कभी भी इसकी शिकायत नहीं की। वह भले ही पति के ऐक्टिंग में करियर बनाने के फैसले को लेकर डाउट में थीं, लेकिन उन्होंने सोनू को हर पल पूरा सपोर्ट देने में कोई कसर नहीं छोड़ी।

अवार्ड

सोनू सूद मूवीज में एक विलेन के CHARACTOR में ज्यादा दिखते है और जनता को भी वे इस तरह ज्यादा पसंद आते है। आज सोनू ने खुद की एक अलग पहचान बनाई है। लोगों के दिल में सोनू बसे हुए है। सोनू को अब तक कई अवार्ड से सम्मानित किया गया है। आइये देखते है इनके नाम:

AWARD                                   CATEGORY                          MOVIE                      ROLE

आईफा अवार्ड और अप्सरा अवार्ड           बेस्ट परफॉर्मेंस इन नेगेटिव रोल          दबंग (2009)             छेदी सिंह

नंदी अवार्ड (आंध्र प्रदेश)                     बेस्ट विलेन                                अरुंधति (2009)           पशुपति

SIIMA अवार्ड                                बेस्ट विलेन

सोशल मीडिया पर रहते है काफी एक्टिव

अभी के समय में SOCIAL MEDIA पर लोग काफी BUSY रहते है। कई लोग सिर्फ TIMEPASS करते है तो कई लोग सोशल मीडिया के PLATFORMS का फायदा उठा कर लोगों की मदद करते है। सोनू सूद लोगों की मदद करने वाली CATEGORY में आते है। आपको बता दें कि, INSTAGRAM पर सोनू के 9.4 मिलियन FOLLOWERS है वहीं TWITTER पर 6.3 मिलियन FANS है। सोनू सोशल मीडिया के माध्यम से इस महामारी के दौर में लोगों की मदद करते है और खास बात तो यह है कि, सोनू की ये सेवाएं बिल्कुल मुफ्त है।

मसीहा के रूप में आए सामने

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस का दौर जब से शुरू हुआ है तब से SONU एक दीवाल बन कर सबके सामने खड़े है। 2020 की शुरुआत में सोनू सूद ने लाखों प्रवासी मजदूरों को उनके घर सही सलामत पहुंचाया था। जिन लोगों के पास खाने का पैसा नहीं था उन्हें सोनू ने खाना खिलाया और तमाम को मदद की जो एक इंसान के लिए काफी मुश्किल है। वहीं उन्होंने अपने 47वें जन्मदिन के अवसर पर एक WEBITE भी लांच की और एक ऐप भी बनाया। इस APP को उन्होंने “प्रवासी रोजगार” का नाम दिया है। इसका मकसद प्रवासी मजदूरों को जिनका रोजगार कोरोना महामारी के चलते छिन गया था उन्हें अपने आसपास के इलाके में ही आसानी से रोजगार मुहैया कराना है।

helpinhg
sonu sood

लोगों का कहना है कि, “सोनू सूद सिर्फ मसीहा नहीं भगवान का रूप है। छल कपट भरे इस कलयुग में भी सोनू सूद ने एक अच्छा इंसान होने की मिसाल कायम की है। जहाँ रोज हम कहीं कत्ल के तो कहीं रेप की खबरें अखबार में पढ़ते हैं, वहीँ सोनू सूद ने उस समय में इंसानियत होने का मतलब समझाया है।”

विशेष तथ्य

आशा करती हु कि, आपको हमारी यह पोस्ट अगर आप भी दिलीप जोशी के फैन है तो इस पोस्ट को जरूर अपने परिवारजनो और अपने दोस्तों के साथ शेयर करे। आपको इस पोस्ट से RELATED कुछ भी पूछना हो तो आप हमें COMMENT के जरिए पूछ सकते है।

 

 

 

नमस्कार दोस्तों, मैं Akanksha Jain Help2Help की Biography Author हूँ. Education की बात करूँ तो मैं Mass Communication से Graduate हूँ. मुझे Biography पढ़ना और दूसरों को पढ़ाना में बड़ा मज़ा आता है.

Leave a Comment