B’day Special: NAWAZUDDIN SIDDIQUI का जीवन परिचय

|

ये भी पढ़े:

यूट्यूबर HARSH BENIWAL का अब तक का सफर

कौन है NAWAZUDDIN SIDDIQUI

NAWAZUDDIN SIDDIQUI BOLLYWOOD का एक ऐसा नाम जिसे पहले कोई नहीं जानता था लेकिन आज इनके ACTING के दीवाने पूरी दुनिया में हैं। आज के वक़्त में NAWAZUDDIN SIDDIQUI को हर कोई जानता है और वो एक सफल व्यक्ति भी हैं, लेकिन हर सफल व्यक्ति के पीछे की ज़िन्दगी बहुत ही मुश्किल और कठनाइयों से भरी हुई होती है। NAWAZ ने अपनी जिंदगी में कई उतार-चढाव देखे है उन्होंने जी तोड़ मेहनत की है जिसका परिणाम अब एक SUPERSTAR ACTOR बनकर उभरे है।

Nawazuddin Siddiqui
Nawazuddin Siddiqui

आज NAWAZUDDIN SIDDIQUI को हर कोई जनता है उनकी आज पूरी दुनिया में अलग पहचान बनी है। आपको बता दें कि, आज NAWAZUDDIN SIDDIQUI का बर्थडे है। आज वे पूरे 47 साल के हो गए है। आज हम आपके साथ NAWAZUDDIN SIDDIQUI के बारे में बताएंगे आज हम बात करेंगे उनके कर्रिएर की उनकी सक्सेस स्टोरी की और उनके निजी जीवन की। तो चलिए शुरू करते है।

परिचय और पढाई

NAWAZUDDIN SIDDIQUI का जन्म 19 मई 1974 को उत्तरप्रदेश के मुज़फ्फरनगर के छोटे से गांव बुढ़ाना में हुआ था। NAWAZ एक मुस्लिम खानदान से ताल्लुक रखते है। उनके पिता किसान थे और वो 7 भाई और 2 बहन हैं। उनके घर की आर्थिक स्तिथि भी ठीक थी इसलिए उन्होंने अपनी इंटरमीडिएट की पढाई अपने गाँव में पूरी की। NAWAZUDDIN SIDDIQUI का कहना था कि, उनके गाँव का माहोल ठीक नहीं था वहां के लोग बस तिन चीज़े जानते थे- गेहूं , गन्ना और गन।

इसलिए NAWAZUDDIN SIDDIQUI ने अपने आगे की पढाई को पूरा करने के लिए गाँव से बाहार चले गए। वहां से NAWAZ हरिद्वार गए और हरिद्वार के गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय में अपना Graduation Chemistry में पूरा किया।

करियर

जिसके बाद वो जॉब के लिए गुजरात चले गए। गुजरात में उन्होंने एक PETROLCHEMISTRY COMPANY में CHEMIST के पद पर कुछ सामय के लिए काम किया। वहां वो काम तो करते थे लेकिन उस काम में उनका मन नहीं लगता था। उनका मन कुछ और ही करना था जिससे की वो पूरी दुनिया में फेमस हो और सब लोग उन्हें पहचाने। आपको बता दें कि, NAWAZ की बचपन से रूचि प्ले करने में थी इसलिए उन्होंने अपनी ज़िन्दगी का एहम फैसला लिया और एक्टिंग सिखने के लिए राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली निकल पड़े।

जिसके बाद उनके दोस्त की सलाह से उन्होंने NATIONAL SCHOOL OF DRAMA में उन्होंने ADDMISSION के लिए APPLY किया लेकिन उस स्कूल में दाखिला लेने के लिए पहले से ही कुछ प्ले का EXPERIENCE होना जरुरी था जो नवाज़ के पास नहीं था इसलिए NAWAJ ने एक प्ले ग्रुप जॉइन किया जहाँ से वो एक्टिंग का टैलेंट हासिल कर सके। उस प्ले ग्रुप का नाम Sakshi Theatre था और वहां NAWAZ ने Manoj Bajpayee और Sourav Shukla के साथ मिलकर काम किया।

सपनों का मिला रास्ता

NAWAZ को धीरे-धीरे आगे जाने की सीढ़िया मिल गई थी उनके लिए दरवाजे खुलते जा रहे थे। जिसके चलते वे छोटे छोटे प्ले करने लगे, लेकिन उस प्ले से उनको उतने पैसे नहीं मिलते थे जिससे की वो अपनी जरूरतों को पूरा कर सके। इसलिए उन्होंने दिल्ली के एक ऑफिस में WATCHMAN का काम करना शुरू किया। अपनी ड्यूटी ख़तम करने के बाद वो प्ले सीखते थे। NAWAZ के अंदर ACTING सिखने का जूनून था और इंडस्ट्री में आने की काबिलियत। इस दौरान उन्होंने अपने जीवन में कई मुसीबतों का सामना किया। बहुत सारे प्ले करने के बाद उन्होंने NSD में ADMISSION ले लिया।

टीवी सीरियल में कदम

NAWAZ ने भी अपने करियर की शुरुआत सबसे पहले टीवी से ही की। उन्होंने TV SERIALS में काम करने की कोशिश की, बहुत कोशिशों के बाद उन्हें SERIALS में एक दो बार थोड़े समय के लिए छोटे रोल्स करने को तो मिला। लेकिन ऐसे रोल मिले जहाँ उन्हें ज्यादातर नोटिस नहीं किया जाता था उसके बाद उनको ऐसा लगने लगा कि, वहां उनकी सही जगह नहीं है। उनके टैलेंट को पह्चान्ने वाला कोई नहीं था, क्यूंकि वहां सिर्फ अच्छे दिखने वालों को चांस मिलता था। नवाज़ के पास वो खूबसूरती नहीं थी जिससे उनको कुछ बड़ा रोल करने को मिलता।

बॉलीवुड में कदम

सेरिअल्स में आने के बाद उन्होंने मूवीज में ट्राय करने का सोचा। आपको बता दें कि, जहाँ भी फिल्म की SHOOTING चल रही होती थी नवाज़ वहां पहुच जाते थे और वहां काम की तलाश में रहते थे, कोई उनसे पूछता था की यहाँ क्या करने आये हो तो नवाज़ कहते थे मै एक्टर हूँ, उन्हें जवाब में यही मिलता था की दीखते तो नहीं हो। जिसके बाद उन्हें वहां से निकाल दिया जाता था।

NAWAZ बार बार ना सुन सुन कर थक चुके थे, इतनी बार उन्हें मना किया गया था कि वो कहते थे ना सुनने की आदत सी हो गयी है अब उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता। कई बार वे सोचते थे की सब कुछ छोड़ कर वापस अपने गाँव अपने माता पिता के पास चला जाऊं लेकिन फिर यही सोच कर रुक जाते की वहां जा कर करेंगे क्या उन्हें तो सिर्फ़ एक्टिंग करना ही अच्छा लगता था उसके अलावा उन्हें किसी और काम में मन नहीं लगता था। यही सोच कर फिर वो रुक जाते और फिर से काम की तालाश में निकल पड़ते।

पहली मूवी

साल 1999 में AMIR KHAN की फिल्म SARFAROSH में उन्हें एक छोटा सा रोल मिला। NAWAZ को एक अपराधी का भूमिका करना था,उसके बाद उन्हें ऐसे ही छोटे छोटे रोल्स करने को मिलते थे, और वो भी ऐसे ऐसे जिससे उन्हें तकलीफ तो होती थी मगर फिर भी वो करते थे। सपनो के शहर मुंबई में उन्होंने 4 साल छोटे रोल्स करने के बाद उन्हें एक बड़ा ब्रेक मिला जो डिरेक्टर अनुराग कश्यप ने अपनी फिल्म Black Friday के लिए नवाज़ को चुना था।

Nawazuddin Siddiqui in sarfarosh
Nawazuddin Siddiqui in sarfarosh

वहां से NAWAZUDDIN SIDDIQUI के ज़िन्दगी का टर्निंग पॉइंट शुरू हुआ। उसके बाद उन्हें Aamir Khan production के Peepli Live मूवी में भी एक पत्रकार का रोल मिला जिसकी वजह से नवाज़ मसहुर हुए और उन्हें बतौर एक्टर की पहचान मिली। धीरे-धीरे NAWAZ आगे बढ़ते गए और आज वे सक्सेसफुल एक्टर है।

विशेष तथ्य

आशा करती हु कि, आप सभी अपने घरों में SAFE होंगे और आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आई होगी। अगर आप हमसे कुछ भी पूछना चाहते है तो आप COMMENT के जरिए पूछ सकते है आपको जल्द ही उसका REPLY मिलेगा। ऐसी ही पोस्ट के लिए help2hindi के और पोस्ट पढ़े।

 

नमस्कार दोस्तों, मैं Akanksha Jain Help2Help की Biography Author हूँ. Education की बात करूँ तो मैं Mass Communication से Graduate हूँ. मुझे Biography पढ़ना और दूसरों को पढ़ाना में बड़ा मज़ा आता है.

2 thoughts on “B’day Special: NAWAZUDDIN SIDDIQUI का जीवन परिचय”

Leave a Comment