UNDERWORLD का हिस्सा CHOTA RAJAN की कहानी

|

ये भी पढ़े

पॉपुलर रोस्टर AJAY NAGAR {CARRY MINATI} का जीवन परिचय

कौन है CHOTA RAJAN

CHOTA RAJAN एक ऐसा नाम जो कभी दाऊद इब्राहीम का सबसे करीबी दोस्त था, दाऊद की पत्नी को अपनी बहन मानता था। लेकिन समय का पहिया घूमा और दोनों की दोस्ती टूट गई। आज हम आपको CHOTA RAJAN के बारे में जानकारी देने जा रहे है। CHOTA RAJAN अलग-अलग देशों में 5000 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति का मालिक है। आपको बता दें कि, CHOTA RAJAN 25 सालों से भारतीय एजेंसी को चकमा देता आ रहा था लेकिन अब CHOTA RAJAN कानूनी शिकंजे में आ गया है।

आज हम बात करेंगे CHOTA RAJAN के बारे में उसकी जिंदगी के बारे में, UNDERWORLD CONNECTION के बारे में और ख़ास तौर पर उसके आज के बारे में। तो चलिए शुरू करते है।

परिचय और परिवार

CHOTA RAJAN का जन्म 5 दिसंबर 1960 को मुंबई के चेंबूर (तिलक नगर) में हुआ था। CHOTA RAJAN एक मराठी परिवार से ताल्लुक रखता है। आपको बता दें कि, CHOTA RAJAN का असली नाम राजेंद्र सदाशिव निखल्जे है। उनके पिता थाने में नोकरी करते थे। CHOTA RAJAN के तीन भाई और दो बहने थी। CHOTA RAJAN का पढाई में मन नहीं था उसने छोटी उम्र में ही फिल्म की टिकिट ब्लैक करना शुरू कर दिया था।

जिसके चलते CHOTA RAJAN नायर गिरोह में शामिल हुआ और जुर्म की दुनिया में उसका हाथ जम गया। साथ ही नायर को बड़ा राजन के नाम से जाना जाने लगा और राजेंद्र सदाशिव को छोटा राजन के नाम से।

दाऊद इब्राहीम से दोस्ती

1982 में जब बड़ा राजन मृत्यु हो गई तो गिरोह को RAJAN सँभालने लगा। जिसके चलते उसने बड़ा राजन की हत्या का बदला लेने के लिए कुंजू नाम के शूटर पर दो बार हमला किया। लेकिन कुंजू की किस्मत अच्छी रही की वो दोनों बार बच गया। इसी दौरान दाऊद इब्राहीम RAJAN से प्रभावित हो गया और उसने CHOTA RAJAN को मिलने बुलाया। जिसके चलते RAJAN ने DAWOOD IBRAHIM गिरोह में अपनी जगह बना ली। गिरोह में आने के बाद  RAJAN ने अपने गुरु बड़ा राजन की हत्या का बदला कुंजू को मारकर पूरा किया।

Chota Rajan and Dawood Abrahim
Chota Rajan and Dawood Abrahim

धीरे-धीरे DAWOOD और RAJAN का भरोसा एक दूसरे पर बनने लगा और वो बहुद कम समय में अच्छे दोस्त बन गये। वहीं डी कंपनी में RAJAN का रुतबा काफी बढ़ गया और 1989 में RAJAN DUBAI चला गया। दुबई में RAJAN ने DAWOOD के लिए काम किया।

दुश्मनी की शुरुआत

आपको बता दें कि, DAWOOD IBRAHIM के दो ख़ास आदमी थे एक शकील और दूसरा छोटा राजन। दुबई जाने के बाद शकील की नजरों में छोटा राजन चुभने लगा। जिसके चलते शकील ने छोटा राजन के खिलाफ अदरुनी बगावत शुरू की और DAWOOD IBRAHIM को भड़काना शुरू किया। अब धीरे-धीरे दाऊद और छोटा राजन के रिश्तों में खटास आने लगी थी। जिसके चलते 1993 के ब्लास्ट के बाद राजन डी कंपनी से अलग हो गया और उसने अपने खुद का गिरोह बनाया।

DUBAI से BANGKOK

दरअसल, दुबई में DAWOOD IBRAHIM ने एक बड़ी पार्टी आयोजित की थी। पार्टी में बड़े बड़े लोग आने वाले थे और इस पार्टी में छोटा राजन को भी बुलाया गया था। वहीं जब RAJAN पार्टी में जाने लगा तब उसे एक CALL आया। CALL पर एक आदमी ने कहा कि, नाना पार्टी में आपको टपकाने का प्लान बनाया हुआ है आप मत आना। अब छोटा राजन को ये बात समझ आ गई थी कि जिन्दा रहना है तो DUBAI छोड़ना पड़ेगी।

जिसके बाद RAJAN DUBAI से KATHMANDU आगया और फिर वहां से MALASIYA चला गया। कुछ सालों के बाद CHOTA RAJAN को फिर जान का खतरा सताने लगा। उसे अपने छुपने के लिये BANGKOK सही ठिकाना लगा। वो वहा चला गया और काफी समय बाद छोटा शकील को छोटा राजन के BANGKOK मे होने की जानकारी मिली। तो वो अपने शार्प शूटर को RAJAN को मारनेे के लिये BANGKOK भेज दिया। हालांकि RAJAN इस जानलेवा हमले से भी बच गया जिसके बाद वो कहा छिपा इसका पता किसी को नहीं चला।

छोटा राजन की गिरफ्तारी

कुछ समय तक RAJAN का कोई अता-पता नहीं था जिसके बाद 2011 में उसका नाम मिड डे न्यूज़ पेपर के वरिस्ट क्राइम रिपोर्टर जोत्यिमर्य की हत्या में आया। उसके बाद 2013 में बिल्डर अरशद शेख और अजय गोसलिया की हत्या में CHOTA RAJAN गिरोह के लोगो के नाम आये। 2014 में अस्टोल्लिया में CHOTA RAJAN पर हमला होने के बाद उसके बाली में होने की खबरे सामने आयी। जिसके बाद अक्टूम्बर 2014 को इंडोनेशिया के बाली में छोटा राजन को गिरफ्तार किया गया।

CHOTA RAJAN की गिरफ़्तारी के बाद उसे हत्यार, ड्रग्स, वसूली, तस्करी और हत्या करना जैसे 70 मामलो में कोर्ट ने दोषी माना और उम्र कैद की सजा कोर्ट ने सुनायी।

कोरोना की चपेट में CHOTA RAJAN

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस की दूसरी लहर शुरू हो गई है। जिसके चलते अप्रैल के आखिरी सप्ताह में CHOTA RAJAN की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। जिसके बाद उसे अस्पताल में एडमिट कराया गया। कई दिनों तक उसकी हालत स्थिर बनी रही। जिसके बाद अब CHOTA RAJAN ने कोरोना को हरा दिया है और उसे वापस तिहाड़ जेल में सलाखों के पीछे बंद कर दिया गया है।

Chota Rajan
Chota Rajan

मृत्यु की उड़ी थी अफवाह

कुछ दिन पहले SOCIAL मीडिया में ये खबर तेजी से VIRAL हो रही थी कि, UNDERWORLD DON CHOTA RAJAN की कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते मौत हो गई है। इस सूचना की जांच की गई तो ये वायरस सूचना गलत निकली। एम्स के एक अधिकारी ने राजन के कोरोना वायरस से संक्रमित होकर इलाज कराने के बारे में पुष्टि की थी।

विशेष तथ्य

आशा करती हु कि, आप सभी अपने घरों में SAFE होंगे और आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आई होगी। अगर आप हमसे कुछ भी पूछना चाहते है तो आप COMMENT के जरिए पूछ सकते है आपको जल्द ही उसका REPLY मिलेगा। ऐसी ही पोस्ट के लिए help2hindi के और पोस्ट पढ़े।

नमस्कार दोस्तों, मैं Akanksha Jain Help2Help की Biography Author हूँ. Education की बात करूँ तो मैं Mass Communication से Graduate हूँ. मुझे Biography पढ़ना और दूसरों को पढ़ाना में बड़ा मज़ा आता है.

Leave a Comment