RATAN TATA की SUCCESS स्टोरी

|

ये भी पढ़े:

BOLLYWOOD की चुलबुली ACTRESS ALIA BHATT की BIOGRAPHY

कौन है RATAN TATA

RATAN TATA एक प्रसिद्ध भारतीय उद्योगपति और टाटा संस के सेवामुक्त चेयरमैन हैं। आपको बता दें कि, इतने बड़ी शख्सियत होने के बाद भी RATAN TATA एक नेकदिल इंसान भी है। RATAN TATA हमेशा देश की और मुसीबत में पड़े इंसान की मदद करने के लिए सबसे आगे रहते है। वे कभी भी सेवा भावना से पीछे नहीं हटते। RATAN TATA सन 1991 से लेकर 2012 तक TATA GROUP के अध्यक्ष रहे। जिसके बाद 28 दिसंबर 2012 को उन्होंने TATA GROUP के अध्यक्ष पद को छोड़ दिया लेकिन वे TATA GROUP के चैरिटेबल ट्रस्ट के अध्यक्ष बन गए।

Ratan Tata
Ratan Tata

वह TATA GROUP के सभी प्रमुख कम्पनियों जैसे टाटा स्टील, टाटा मोटर्स, टाटा पावर, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, टाटा टी, टाटा केमिकल्स, इंडियन होटल्स और टाटा टेलीसर्विसेज के भी अध्यक्ष थे। उनके नेतृत्व में TATA GROUP ने नई ऊंचाइयों छुआ और समूह का राजस्व भी कई गुना बढ़ा। आज हम बात करेंगे RATAN TATA की, उनके जीवन की, उनके कठिन परिस्थितियों की और उनकी कामयाबी की उचाईयों की। तो चलिए शुरू करते है:

परिचय

RATAN TATA का जन्म 28 दिसंबर, 1937 को भारत के सूरत शहर में हुआ था। RATAN TATA नवल टाटा के बेटे हैं जिन्हे नवजबाई टाटा ने अपने पति रतनजी टाटा के मृत्यु के बाद गोद लिया था। जब RATAN दस साल के थे और उनके छोटे भाई, जिमी, सात साल के तभी उनके माता-पिता (नवल और सोनू) मध्य 1940 के दशक में एक दुसरे से अलग हो गए। जिसके बाद दोनों भाइयों का पालन-पोषण उनकी दादी नवजबाई टाटा ने किया। RATAN TATA का एक सौतेला भाई भी है जिसका नाम NOEL TATA है।

पढाई

RATAN TATA की शुरूआती शिक्षा मुंबई के कैंपियन स्कूल से हुई और माध्यमिक शिक्षा कैथेड्रल एंड जॉन कॉनन स्कूल से। जिसके बाद उन्होंने अपना बी एस वास्तुकला में स्ट्रक्चरल इंजीनियरिंग के साथ कॉर्नेल विश्वविद्यालय से 1962 में पूरा किया। उन्होंने हार्वर्ड बिजनेस स्कूल से सन 1975 में एडवांस्ड मैनेजमेंट प्रोग्राम पूरा किया।

करियर

आपको बता दें कि, RATAN TATA ने भारत लौटने से पहले लॉस एंजिल्स, कैलिफोर्निया, में जोन्स और एमोंस में कुछ समय काम किया। जिसके बाद उन्होंने TATA GROUP के साथ अपने करियर की शुरुआत की। RATAN TATA ने सन 1961 में अपने करियर की शुरुआत की थी। शुरुआती दिनों में उन्होंने TATA STEEL के शॉप फ्लोर पर काम किया। इसके बाद वे TATA GROUP के और कंपनियों के साथ जुड़े। जिसके बाद सन 1971 में उन्हें राष्ट्रीय रेडियो और इलेक्ट्रॉनिक्स कंपनी (नेल्को) में प्रभारी निदेशक नियुक्त किया गया और 1981 में उन्हें TATA INDUSTRIES का अध्यक्ष बनाया गया।

TATA GROUP को दी उचाइयां

RATAN के नेतृत्व में TATA GROUP ने नई ऊंचाइयों को छुआ। TATA GROUP ने टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज ने पब्लिक इशू जारी किया और टाटा मोटर्स न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध किया गया। जिसके बाद सन 1998 में टाटा मोटर्स ने पहली पूर्णतः भारतीय यात्री कार “टाटा इंडिका” को पेश किया। इसके बाद टाटा टी ने टेटली, टाटा मोटर्स ने ‘जैगुआर लैंड रोवर’ और टाटा स्टील ने ‘कोरस’ का अधिग्रहण किया जिससे TATA GROUP की शाखा भारतीय उद्योग जगत में बहुत बढ़ी। वहीं आपको बता दें कि, “टाटा नैनो” जो की दुनिया की सबसे सस्ती यात्री कार है यह भी RATAN TATA की ही सोच का परिणाम है।

Tata
Tata

RATAN TATA ने भारत के साथ-साथ दूसरे देशों के कई संगठनो में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। आपको बता दें कि, RATAN प्रधानमंत्री की व्यापार, उद्योग परिषद और राष्ट्रीय विनिर्माण प्रतिस्पर्धात्मकता परिषद के भी एक सदस्य हैं। इसके साथ ही RATAN कई कम्पनियो के बोर्ड पर निदेशक भी हैं।

पुरस्कार

आपको बता दें कि, भारत के 50वे गणतंत्र दिवस समारोह पर यानी 26 जनवरी 2000 का दिन RATAN TATA के लिए बहुत बड़ा दिन था। दरअसल इस दिन RATAN TATA को तीसरे नागरिक अलंकरण पद्म भूषण से सम्मानित किया गया। उन्हें 26 जनवरी 2008 को भारत के दुसरे सर्वोच्च नागरिक अलंकरण पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया था। वे नैसकॉम ग्लोबल लीडरशिप (NASSCOM Global Leadership) पुरस्कार 2008 में प्राप्त करने वालों में से एक थे। ये पुरस्कार उन्हें 14 फ़रवरी 2008 को मुम्बई में एक समारोह में दिया गया था। जिसके बाद RATAN TATA ने 2007 में टाटा परिवार की ओर से परोपकार का कारनैगी पदक प्राप्त किया।

इसके अलावा RATAN TATA भारत में विभिन्न संगठनों में वरिष्ठ पदों पर कार्यरत हैं और वे प्रधानमंत्री की व्यापार एवं उद्योग परिषद के सदस्य हैं। वहीं मार्च 2006 में टाटा को कॉर्नेल विश्वविद्यालय द्वारा 26 वें रॉबर्ट एस सम्मान से सम्मानित किया गया था।

नहीं की अब तक शादी

टाटा ग्रुप के पूर्व चेयरमैन RATAN TATA ने पूरी जिंदगी किसी से शादी नहीं की। लेकिन ऐसा नहीं है कि RATAN TATA ने कभी किसी से प्यार ही नहीं किया था। एक इंटरव्यू में उन्होंने खुद अपनी LOVE LIFE का जिक्र किया था। उनकी जिंदगी में प्यार की एक दास्तान नहीं बल्कि 4 दास्तान है लेकिन मुश्किल दौर के आगे उनके रिश्ते की डोर कमजोर पड़ गई। इसके बाद फिर कभी RATAN TATA ने शादी के बारे में नही सोचा।

एक टीवी चैनल से इंटरव्यू में RATAN TATA ने अपनी लव लाइफ के बारे में भी खुलासा किया था। उन्होंने कहा कि उन्हें भी प्यार हुआ था, लेकिन वह अपनी मोहब्बत को शादी के अंजाम तक नहीं पहुंचा सके। RATAN TATA ने कहा कि दूर की सोचते हुए उन्हें लगता है कि अविवाहित रहना उनके लिए ठीक साबित हुआ, क्योंकि अगर उन्होंने शादी कर ली होती तो स्थिति काफी जटिल होती।

उन्होंने कहा कि, अगर आप पूछें कि क्या मैंने कभी दिल लगाया था, तो आपको बता दूं कि मैं चार बार शादी करने के लिए गंभीर हुआ और हर बार किसी न किसी डर से मैं पीछे हट गया। साथ ही अपने प्यार के दिनों के बारे में TATA ने कहा कि, जब मैं अमेरिका में काम कर रहा था, तो शायद मैं प्यार को लेकर सबसे ज्यादा सीरियस हो गया था और हम केवल इसलिए शादी नहीं कर सके, क्योंकि मैं वापस भारत आ गया। जिसके बाद उनकी प्रेमिका ने अमेरिका में ही किसी और से शादी कर ली।

विशेष तथ्य

आशा करती हु कि, आप सभी अपने घरों में SAFE होंगे और आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आई होगी। RATAN TATA के बारे में तमाम जानकारी आपको मिल गई होगी अगर आप हमसे कुछ भी पूछना चाहते है तो आप COMMENT के जरिए पूछ सकते है। आपको जल्द ही उसका REPLY मिलेगा। ऐसी ही पोस्ट के लिए help2hindi के और पोस्ट पढ़े।

नमस्कार दोस्तों, मैं Akanksha Jain Help2Help की Biography Author हूँ. Education की बात करूँ तो मैं Mass Communication से Graduate हूँ. मुझे Biography पढ़ना और दूसरों को पढ़ाना में बड़ा मज़ा आता है.

Leave a Comment